Social
Pond

Pond

हमारे यहाँ खेती प्रधान देश में खेती बारिस पर निर्भर है तब किसान को अपनी फ़सल लेने के लिए बारिस एक ही उपाय है।  सरकार अपनी योजनाओ के माध्यम से किसान की आय दो गुना करने में जुडी है पर जितने जरुरी है वह परिणाम नहीं मिल रहे है।  मानव सेवा ट्रस्ट ने टाटा मोटर्स ली. के साथ मिलकर पिछले वर्षो में इस परिस्थिति पर विजय प्राप्त करने हेतु पानी का सरक्षण करना तय किया।  ग्रामीण इलाके में ग्राम पंचायत से मिलकर सभी गाँव के लोगो को इस बात से अवगत करवाया गया। तय यह हुआ की गाँव के जलाशयों को समरा जाए ताकि बारिस का पानी ज्यादा से ज्यादा जमा हो सके और पानी का लेवल ऊपर आए ताकि कुँए पर भी खेती कर सके। मानव सेवा ने कुवार गाँव से यह आरंभ किया जेसीबी ट्रेक्टर आदि से तालाब को गहेरा किया गया साथ की तालाब की खुदाई से जो मिट्टी निकली उसका उपयोग करके तालबा की किनारी या बांध को मजबूत किया गया।  सानंद के कुवार , रणमलगढ़, वासोदरा, ईयावा जैसे गाँव को इस का लाभ मिला।  आज इन जलाशयों की माध्यम से कई किसान अपना खेत सींचते है और ज्यादा उपज़ लेते है।  ज्यादा आमदनी की वज़ह से किसानो के कई परिवारों में ख़ुशहाली आई है।  ग्रामीण परिवारों में शिक्षा एव स्वास्थ्य प्रति सुधार हुआ है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *